X Close
X

हाॅकी टीम की कप्तान वंदना कटारिया के हरिद्वार लौटने पर कलैक्ट्रट सभागार में हुआ सम्मान समारोह का आयोजन


41431-707ee139-3263
Haridwar:

हरिद्वार। हरिद्वार जिले की प्रतिभावन हाॅकी खिलाड़ी जिसने अपने खेल से देश और दुनिया में हरिद्वार का नाम रोशन किया। 2016 में भारतीय हाॅकी टीम की कप्तान रही, 2015 विश्व में हाॅकी खेल में भारत का प्रतिनिधित्व कर बेस्ट स्कोरर बनी रोशनाबाद के गांव की रहनी वाली हाॅकी खिलाड़ी वंदना कटारिया द्वारा एशियन गेम्स 2018 में सेकेंड बेस्ट स्कोर बनने तथा भारत को सिल्वर मेडल दिलाने पर आज जिला प्रशासन की ओर से वंदना कटारिया के सम्मान में समारोह का आयोजन किया गया। सम्मान समारोह में वंदना कलेक्ट्रट रोशनाबाद अपने पिताजी के साथ पहुंची। जिलाधिकारी दीपक रावत ने कलेक्ट्रट पहुंचने पर वंदना को सभागार में जिलाधिकारी के लिए आरक्षित सीट पर बैठाकर उनके प्रति अपना सम्मान व्यक्त किया। 
वंदना कटारिया द्वारा हाॅकी की विभिन्न राष्ट्रीय अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में सफलता के बाद इस वर्ष 2018 एशियन गेम्स में बेहतरीन प्रदर्शन कर हरिद्वार लौटने पर जिलाधिकारी दीपक रावत ने आज कलैक्ट्रेट सभागार में वंदना के सम्मान में एक सम्मान समारोह का आयोजन कर उन्हें उनके बेहतर प्रदर्शन के लिए बधाई और भविष्य में होने वाली प्रतियोगिताओं के लिए अग्रिम शुभकामनायें दी। 
जिलाधिकारी ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि किसी भी प्रतियोगिता में वंदना की जीत केवल वंदना की जीत नहीं बल्कि उस साहस की जीत है जो माता पिता बेटियों को जन्म देकर, उन्हें शिक्षा, समानता का अवसर देकर आगे बढ़ाते हैं। ये उस सोच की जीत है जो बेटा-बेटी में अन्तर को नहीं मानती। जिस भी क्षेत्र में लड़कियां दुश्वारियों से लड़कर जब अपने आपको स्थापित करती हैं तो वो जीत सामाजिक कुरितियों और भ्रांतियों पर करारा वार करती है। वंदना की सफलता से सभी माता-पिता और बच्चियां अवश्य ही प्रेरित हैं।
हरिद्वार जिले में बेटियों का इतना बड़ा उदाहरण हमारे पास है कि बेटियां वो सब कुछ कर सकती हैं जो एक बेटा कर सकता है। जिलाधिकारी ने वंदना कटारिया को हरिद्वार में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान का बे्रंड अम्बेसडर भी घोषित किया। डीएम ने कहा कि बेटियो को बचाने, पढ़ाने तथा आगे बढ़ाने के लिए जिला प्रशासन समय समय पर उनका सहयोग लेगा। 
डीएम ने कहा कि उनके द्वारा हरिद्वार में खेलों को प्रोत्साहन मिले, प्रतिभावन खिलाड़ी आगे आयें इसके लिए वंदना कटारिया से लिखित रूप से सुझाव भी आमंत्रित किये हैं। उनके सुझावों को शासन से स्पोर्टस पाॅलिसी में शामिल किये जाने का अनुरोध किया जायेगा। जिलाधिकारी स्तर पर जो भी संसाधन हरिद्वार स्टेडियम और खेलों के लिए उपलब्ध कराये जा सकते हैं उन्हें प्रशासनिक स्तर पर ही उपलब्ध कराये जाने का प्रयास किया जायेगा।
रानीपुर विधायक आदेश चैहान ने वंदना को पूरे जिले के लिए राॅल माॅडल बताया। जिससे सभी बच्चियों को प्रेरणा मिली है कि सासंधनों के अभाव में भी प्रतिभा छिप नहीं सकती। उन्होंने वंदना को शाॅल व बुके भेंट कर सम्मानित किया।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी विनीत तोमर, जिला क्रीड़ा अधिकारी सुनील डोभाल, युवा कल्याण अधिकारी रमेश चंद, बेसिक शिक्षा अधिकारी ब्रम्हपाल सैनी, मुख्य ट्रेजरी अधिकारी, जिला सेवायोजन अधिकारी उत्तम कुमार, जिला विकास अधिकारी 
पुष्पेंद्र चैहान सहित अनेक जनपद स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे। सभी ने वंदना को बधाई दी।

Uttarakhand Stambh News