X Close
X

बरसात पूर्व साफ होंगे नाली -नाले , बंद पड़े शौचालयों के टूटेंगे ताले- जिलाधिकारी


41431-6e27d143-7989
Haridwar:

हरिद्वार। जिलाधिकारी दीपक रावत ने हरिद्वार -रूड़की विकास प्राधिकरण के मायापुर स्थित सभागार में बतौर नगर निगम प्रशासक के रूप में निगम अधिकारियों संग पहली बैठक ली। बैठक में डीएम नगर निगम अधिकारियों से सफाई व्यवस्था, लीज व नजूल भूमि, शौचालय, फूल-फरोशी, अमृत योजना व प्रधानमंत्री आवास योजना, गृहकर वसूली और नगर निगम के आय व्यय संबंधी जानकारी मांगी। लीज भूमि व नजूल की संपत्तियों के विषय में जब डीएम रावत ने संबंधित विभागीय अधिकारी से जानकारी चाही तो संबंधित अधिकारी डीएम को सही जानकारी मुहैया नहीं कराए पाए। उन्होंने कहा कि नगर निगम संपत्ति रजिस्ट्रर व बंदोबस्त से संपत्तियों का ब्यौरा एकत्रित किया जाऐगा। जिसके बाद डीएम रावत ने संबंधित विभागीय अधिकारी को संपत्ति संबंधी जानकारी एकत्रित करने के लिए निर्देश दिए। जिलाधिकारी द्वारा शहर में लगाए गए कूड़ेदान और सफाई व्यवस्था को लेकर पूछे गए सवालों पर भी निगम अधिकारी के सवालों का जबाब सही तरीके से नहीं दे पाए। कई बार डीएम रावत के सवालों के जबाब दे रहे अधिकारियों के असहज होने पर नगर आयुक्त को बीच - बीच में बात संभालनी पड़ी। बरसात पूर्व नालों को साफ करने के निर्देश दिए। फागिंग व कीटनाशक दवाईयों का छिडकाव कर डेंगू से निपटने के आदेश डीएम ने समयपूर्व ही निगम कर्मियों को दिए हैं। शौचालयों संबंधी जानकारी मांगने पर संबंधित अधिकारियों ने बताया कि अधिकांश शौचालय चालू हैं कुछ पर ताला लटका हैं । कुछ की जानकारी ही नहीं थी । कनखल बंगाली मोड़ पर बंद पड़े शौचालय की जानकारी बैठक में मौजूद मीडिया ने दी।  इस पर डीएम ने ताला लटके शौचालयों को ताला मुक्त करने के साथ ही बंद पड़े शौचालयों को सुचारू करने की व्यवस्था निगम को अपने हाथों में लेने के निर्देश दिए। उन्होंने सेनेटरी इंस्पेक्टरों को सख्त हिदायत देते हुए कहा कि कोई व्यक्ति खुले में शौच करते हुए मिला तो नगर निगम के सेनेटरी इंस्पेक्टरों के वेतन से जुर्माना वसूला जाएगा। बैठक में नगर आयुक्त नितिन भदौरिया, सहायक नगर आयुक्त पीके बंसल,मुख्य वित्तअधिकरी तंजीम अली,टीएस सुनीता सक्सेना, सेनेटरी इंस्पेक्टर विकास छाछर आदि सम्मिलित रहे।

Uttarakhand Stambh News